नगर निगम के तुगलकी फरमान से व्यापारी परेशान , आज रखेंगे बाजार बंद।

अजमेर ब्यूरो रिपोर्ट।
अजमेर नगर निगम के व्यापारिक प्रतिष्ठानों से यूजर चार्ज की वसूली के निर्णय का व्यापारी विरोध कर रहे हैं। नगर निगम आय बढ़ाने का हवाला देकर यूजर चार्ज लेने का निर्णय ले चुका है। जबकि राजस्थान सरकार ने यूजर चार्ज वसूलने का कोई आदेश जारी नहीं किया। श्री अजयमेरू व्यापारिक महासंघ के महासचिव रमेश लालवानी ने बताया कि नगर निगम जयपुर यूजर चार्ज व्यापारियों पर थोप रहा है। किसी भी जिले में यूजर चार्ज व्यापारियों से नहीं लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रशासन और जनप्रतिनिधियों के साथ व्यापारियों की बैठक भी हो चुकी है, लेकिन कोई निर्णय चार्ज को लेकर नहीं निकला है। लालवानी ने बताया कि सांसद भागीरथ चौधरी ने बैठक में कहा था कि देश में किसी भी संसद क्षेत्र में निकाय की ओर से यूजर चार्ज नहीं लिए जा रहे हैं। लालवानी का आरोप है कि अजमेर नगर निगम मेयर ब्रजलता हाड़ा कह रही हैं कि राज्य सरकार ने यूजर चार्ज लेने के आदेश दिए हैं। जबकि राज्य सरकार के स्तर पर ऐसे कोई आदेश नहीं है। उन्होंने कहा कि नगर निगम पहले व्यापारियों से यूजर चार्ज की वसूली करने की भूमिका बना रहा है। इसके बाद रिहायशी मकानों से चार्ज वसूल करेगा। उन्होंने कहा कि व्यापारिक एसोसिएशन ने मंगलवार को बंद का आह्वान किया है। शहर कांग्रेस कमेटी, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, अजमेर बार एसोसिएशन, ऑटो, टेम्पो और मिनी बस एसोसिएशन समेत विभिन्न संगठनों ने बंद में समर्थन किया है। आपात सेवा, दवाइयों की सभी दुकानें बंद रहेंगी। वही राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने व्यापारियों के अजमेर बंद के निर्णय को समर्थन दिया है। 1 दिन पहले ही आरएलपी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय के बाहर व्यापारियों के साथ मिलकर धरना प्रदर्शन किया। पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह रावत ने बताया कि यूजर चार्ज कर व्यापारियों को नगर निगम परेशान कर रही है। इसके विरोध में आरएलपी अनिश्चितकालीन धरना जिला मुख्यालय पर दे रही है। जब तक यूजर चार्ज का निर्णय नगर निगम की ओर से वापस नहीं लिया जाता है, तब तक आरएलपी अपना आंदोलन जारी रखेगी। उन्होंने बताया कि आरएलपी व्यापारियों के साथ खड़ी है और मंगलवार को पार्टी ने भी व्यापारियों के बंद के आह्वान को समर्थन दिया है। वही शहर कांग्रेस कमेटी के महासचिव वैभव जैन ने बताया कि 2014 में तत्कालीन भाजपा सरकार ने यूजर चार्ज लगाने का निर्णय लिया था, जिसका कांग्रेस ने विरोध किया था। कांग्रेस गरीब, मजदूर, किसान व्यापारियों के साथ खड़ी है। नगर निगम में भाजपा का बोर्ड है। निगम का यह तुगलकी फरमान है। शहर कांग्रेस कमेटी ने निर्णय लिया है कि वह अजमेर के व्यापारियों के बंद के समर्थन में सहयोग करेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack