क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले जाना पहला काम-वैभव गहलोत

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान में क्रिकेट की कमान एक बार फिर सीएम अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत के हाथों में आ गई है। राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन में पहली बार सभी पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हुआ है। शनिवार को आरसीए में जनरल बॉडी की मीटिंग भी आयोजित की गई। चुनाव अधिकारी सुनील अरोड़ा ने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के तमाम निर्विरोध प्रत्याशियों की शनिवार को घोषणा की और सभी जीते हुए प्रत्याशियों को सर्टिफिकेट दिए गए। इस मौके पर राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष वैभव गहलोत ने कहा कि एक बार फिर से क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले जाना हमारा पहला काम होगा।  वैभव गहलोत ने यह भी कहा कि जो विपक्षी गुट था उन्होंने हमें समर्थन दिया और हम सभी जिला क्रिकेट संघों को साथ लेकर चलने का प्रयास करेंगे। वैभव गहलोत ने निर्विरोध अध्यक्ष बनने पर सीपी जोशी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि 3 साल पहले हमने राजस्थान क्रिकेट के इन्फ्रास्ट्रक्चर को सुधारने की शुरुआत की थी। इसके तहत जयपुर में जहां इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम निर्माण कार्य की शुरुआत हो गई है। वहीं, जोधपुर में बरकतुल्लाह खा क्रिकेट स्टेडियम को अंतरराष्ट्रीय मैच के लिए तैयार कर लिया गया है। साथ ही उदयपुर में यूआईटी से नए क्रिकेट स्टेडियम के लिए जमीन मिल चुकी है।
ये प्रत्याशी हुए निर्विरोध निर्वाचित।
अध्यक्ष पद पर वैभव गहलोत, उपाध्यक्ष पद पर शक्तिसिंह , सचिव पद पर भवानी सामोता, कोषाध्यक्ष पर रामपाल शर्मा, संयुक्त सचिव राजेश भड़ाना, कार्यकारिणी सदस्य फारूख अहमद निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। जबकि सीपी जोशी गुट के गिरिराज सनाढय ने वैभव गहलोत के सामने नामांकन पत्र दाखिल किया था, जो वापिस ले लिया। इसके अलावा नांदू गुट से सभी प्रत्याशियो ने नामांकन पत्र वापिस ले लिया। इनमें मुकेश शाह, राजेंद्र सिंह नांदू, विनोद सहारण और अरूण सिंह हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack