पेपर लीक का मुख्य सरगना कई मंत्रियों के ट्वीटर हैंडल और फेसबुक पेज को करता था ऑपरेट।

जालौर ब्यूरो रिपोर्ट।
रीट के बाद वरिष्ठ शिक्षक भर्ती परीक्षा के पेपर आउट में जालोर के सरगनाओं की मुख्य भूमिका सामने आयी है। इस घटना के पीछे सरपंच का बेटा और रेलवे से निलंबित कर्मचारी मास्टरमाइंड निकले। दरअसल, राज्य सरकार की तरफ से वरिष्ठ शिक्षक भर्ती निकाली गई थी। जिसके लिए शनिवार को परीक्षा होने वाला थी। इस बीच पहली पाली के सामान्य ज्ञान का पेपर लीक हो गया था। उदयपुर पुलिस ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई करते करीब 49 लोगों एफआईआर दर्ज की। जिसमें 46 अभ्यर्थी हैं, जबकि, तीन लोग पेपर आउट करने के सरगनाओं से जुड़े है।
मुख्य सरगना सुरेश ढाका और भूपेंद्र बिश्नोई।
इसमें मुख्य सरगना सुरेश ढाका और भूपेंद्र बिश्नोई है। ढाका अभी तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सांचौर पंचायत समिति क्षेत्र के अचलपुर ग्राम पंचायत का पुत्र सुरेश ढाका पिछले लंबे समय से जयपुर में रहकर कोचिंग सेंटर चलाता है। साथ ही सुरेश राज्य के कई मंत्रियों के ट्वीट हैंडल और फेसबुक पेज को ऑपरेट करता है। सुरेश के साथ भूपेंद्र बिश्नोई नाम का युवक भी शामिल है जो रेलवे का निलंबित कर्मचारी है। दोनों ने जयपुर से पेपर लेकर अपने रिश्तेदार हेडमास्टर सुरेश बिश्नोई को भेजा था।
हैडमास्टर ने तैयार किया पूरा प्लान।
सुरेश चितलवाना के ठेलिया की संस्कृत स्कूल में हेडमास्टर तैनात है। हेड मास्टर ने पूरा प्लान तैयार करते हुए प्रत्येक अभ्यर्थी से 10 से 15 लाख में सौदा तय करके बस में पेपर सॉल्व करवाया था। वहीं, दूसरे वाहन से बस पर नजर बनाए हुए था। इस दौरान पुलिस ने बेकरिया थाना क्षेत्र में नाकाबंदी करके बस को पकड़ लिया। इसके अलावा हेड मास्टर सुरेश और पेपर सॉल्व करने वाले डॉक्टर भजन लाल को भी गिरफ्तार करके पूरे नकल गिरोह का भंडाफोड़ किया।
जालोर में पुलिस ने दी दबिश।
उदयपुर में हुई कार्रवाई में ज्यादातर छात्र जालौर जिले के रहने वाले है। पेपर आउट करने वाले मास्टरमाइंड भी इसी क्षेत्र के रहने वाले है। ऐसे में मिल रहे इनपुट के आधार पर पुलिस जिले के गांवों में देर रात तक जगह-जगह दबिश देकर गिरोह से जुड़े लोगों को उठाया। उदयपुर पुलिस अभ्यर्थियों से पूछताछ करने के बाद अब पेपर आउट करने वालों से संपर्क करने वाले कनेक्शन तलाश रही है। पुलिस की इस ताबड़तोड़ कार्रवाई से क्षेत्र में पेपर आउट करने वाले सरगना समेत अन्य आरोपी शनिवार से भूमिगत हो गए है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack