हाईकोर्ट ने पीटीआई भर्ती पर गहलोत सरकार से मांगा जवाब।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान हाईकोर्ट ने पीटीआई भर्ती 2022 में प्रथम पेपर और सेकंड पेपर की उतर कुंजी को चुनौती देने वाली याचिका में राजस्थान कर्मचारी बोर्ड  को आदेश दिया कि याचिकाकर्ता को दस्तावेज सत्यापन के लिए बुलाया जाए। साथ ही शिक्षा सचिव, निदेशक माध्यमिक,शिक्षा बीकानेर, सचिव राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड जयपुर चेयरमैन राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड से जवाब तलब किया है। हाईकोर्ट के जस्टिस सुदेश बंसल ने कैलाश साँखला व अन्य की याचिका पर दिया। याचिका में अधिवक्ता राम प्रताप सैनी ने न्यायालय को बताया  कि याचिकाकर्ता ने पीटीआई भर्ती परीक्षा 2022 में भाग लिया बोर्ड ने दिनांक 16 जून 2022 को कुल 5546 शारीरिक शिक्षा अध्यापक के पद का विज्ञापन जारी किया था दिनांक 25 सितंबर 22 को परीक्षा हुई थी जिसकी प्रथम उतर कुंजी 11 अक्टूबर 22 को जारी की गई थी ओर फाइनल उतर कुंजी 21 अक्टूबर 22 को जारी की जिसके अनुसार याचिकाकर्ता के प्रथम पेपर में 13 उतर सही होते हुए उनका उतर बदला और कुछ को डिलीट कर दिया ऐसे ही सेकंड पेपर में 20 प्रश्न के उतर बदल दिये और कुछ के डिलीट कर दिए इसी कारण याचिकाकर्ता चयन से वंचित रह गये। इस भर्ती में प्रत्येक प्रश्न पेपर में 40 प्रतिशत अंक भी लाने ज़रूरी थे इसी कारण याचिकाकर्ता प्राप्त नहीं कर सका और फेल हो गया यदि ये उतर डिलीट नहीं करते तो प्रार्थी का चयन हो जाता। अधिवक्ता राम प्रताप सैनी ने यह भी बताया की प्रार्थी का दस्तावेज सत्यापन करवाया जाए और इन विवादित प्रश्न और उतर पर विषय  विशेषज्ञ कमेटी बना कर जाँच की जाए और उनके दिए उतर के अंक देकर उन्हें नियुक्ति दी जाए हाई कोर्ट ने आदेश दिया कि याचिकाकर्ता के दस्तावेज सत्यापन करवाया जाए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack