माही बांध का पानी जालौर एवं बाड़मेर को लेकर किसानों की चौपाल आयोजित।

जालोर ब्यूरो रिपोर्ट।
समदड़ी कस्बे के ललेची माता मंदिर परिसर में राजस्थान किसान संघर्ष समिति, जालौर, सिरोही और बाड़मेर के तत्वाधान में सिवाना विधानसभा क्षेत्र स्तरीय किसान जन जागरण चौपाल का आयोजन राजस्थान किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष बद्री दान चारण के नेतृत्व में चौपाल आयोजित हुई। जिसमें सगड़ी तहसील सहित दर्जनों गांव से किसानों ने सैकड़ों की तादाद में भाग लिया। वही किसान संघर्ष समिति चौपाल में मुख्य अतिथि जयवीर गोदारा प्रदेशाध्यक्ष मरूप्रदेश निर्माण मोर्चा। 
अतिथि विक्रम सिंह पुनासा संयोजक राजस्थान किसान संघर्ष समिति, केसर सिंह राठौड़ उपाध्यक्ष राजस्थान किसान संघर्ष समिति एवं महामंत्री मरूप्रदेश निर्मल मोर्चा, दुर्जन सिंह भाटी प्रदेश उपाध्यक्ष मरूप्रदेश निर्माण मोर्चा,एड , जयंन्ल मुंड अध्यक्ष मरू सेना की उपस्थिति में किसानों को जीवनदायिनी मरू गंगा के मीठे पानी के बारे में विभिन्न प्रकार से जानकारी दी और कहा कि हिमालय का पानी राजस्थान में पहुंचना चाहिए। किसान संघर्ष समिति अध्यक्ष बद्री दान चारण ने कहा कि माही नदी पर स्थित कनाडा बांध बनना चाहिए जिस पर 2/3 हिस्से के पानी पर जालौर, सिरोही और बाड़मेर का हक प्रमाणित है। इस मामले को लेकर राजस्थान हाई कोर्ट में भी इसकी जनहित याचिका दायर की हुई है और जिसमें राजस्थान सरकार ने अपने जवाब में यह लिखा भी है कि जालोर और बाड़मेर में पानी की भारी कमी है वही इस क्षेत्र में जो ओवरलोड पानी है माही बांध का जो किसी भी तरीके से डाइवर्ट करके दे दिया जाए तो राहत भर के लिए पब्लिक को फायदा हो सकता है। लेकिन केंद्र सरकार ने गोलमाल दीया तो उच्च न्यायालय ने यह निर्देश जारी किया कि पानी के लिए एक योजना बनाई जाए। जिस ढंग से माही नदी का जल और माही बांध का ओवरफ्लो पानी जालोर और बाड़मेर की धरती पर लाया जाए। नहरों के जरिए सिंचाई और पेयजल के लिए इस मामले को लेकर मुख्य अभियंता जोधपुर मे मुख्य अभियंता जयपुर को लेटर लिखा है कि एक टीम गठित की जाए ताकि वह सर्वे कर मालूम कर सके कि किस हिसाब से माही डैम का ओवरफ्लो पानी जालोर और बाड़मेर में लाया जा सके। जिसको लेकर किसानों ने माही नदी के पानी पर चर्चा की गई और संघर्ष समिति की ओर से मुख्यमंत्री को मिलकर माही नदी का पानी लाने की बात कही गई और भी वक्ताओं ने अपने अपने विचार व्यक्त किए। मंच संचालक प्रकाश विश्नोई ने किया इस मौके पर पूर्व सरपंच बाबूलाल परिहार, पूर्व विधायक कानसिंह कोटड़ी, गंगा सिंह काठाडी, पूर्व जिला प्रमुख बालाराम चौधरी, पूर्व जिला परिषद सदस्य इंदा राम चौधरी, पूर्व सरपंच माधुसिंह राजपुरोहित, पूर्व प्रधान प्रतिनिधि पदमाराम चौधरी, वर्दी चंद राजपुरोहित सहित सैकड़ों की तादाद में किसान उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack