पेपर लीक मामले मे RPSC का कड़ा रुख, 46 को परीक्षा से किया हमेशा के लिये वर्जित।

अजमेर ब्यूरो रिपोर्ट।
पेपर लीक प्रकरण में राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से बड़ा निर्णय लिया गया है। आयोग अध्यक्ष संजय कुमार श्रोत्रीय और सदस्यों ने बैठक में उदयपुर पुलिस अधीक्षक की रिपोर्ट के आधार पर 46 अभ्यार्थियों की परीक्षा रद्द कर दी है। इतना ही नहीं आयोग ने सख्त निर्णय लेते हुए इन आरोपी अभ्यार्थियों को आयोग की हर परीक्षा से हमेशा के लिए विवर्जित कर दिया है। आयोग के सचिव एचएल अटल ने बताया कि पेपर लीक के संबंध में फुल कमीशन की अत्यावश्यक बैठक आयोजित की गई। इसमें वरिष्ठ अध्यापक ( माध्यमिक शिक्षा ) प्रतियोगी परीक्षा 2022 के ग्रुप सी के सामान्य ज्ञान एवं शैक्षिक मनोविज्ञान के प्रश्न पत्र को षडयंत्र पूर्वक लेने की जानकारी होने पर उदयपुर जिला पुलिस अधीक्षक से रिपोर्ट प्राप्त की गई। रिपोर्ट के अनुसार उदयपुर जिले के पुलिस थाना बेकरिया में अपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है, इसमें 39 अभ्यर्थी और सुखेर पुलिस थाना में दर्ज अपराधिक प्रकरण में लिप्त 7 अभ्यार्थी शामिल हैं। कुल 46 अभ्यार्थियों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है। अटल ने बताया कि रिपोर्ट पर विचार विमर्श करने के बाद बैठक में उन सभी 46 आरोपी अभ्यर्थियों की वर्तमान परीक्षा को रद्द किया गया है। साथ ही आयोग की ओर से भविष्य में ली जाने वाली समस्त परीक्षाओं से हमेशा के लिए प्राथमिक तौर पर विवर्जित किए जाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि पूर्व में भी आयोग की परीक्षा की शुचिता भंग करने वाले आरोपियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack