स्वामी विवेकानंद की मनाई 160वीं जंयती।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
भारत विकास परिषद करौली ने युग पुरूष स्वामी विवेकानंद की 160वीं जयंती व राष्ट्रीय युवा दिवस विवेकानंद पार्क में उनकी प्रतिमा के समक्ष मनाया। भारत विकास परिषद के अध्यक्ष नगेन्द्र शर्मा ने बताया कि इस अवसर पर मुख्य वक्ता रमेश राजोरिया व शाखा अध्यक्ष ने स्वामी की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम का प्रारंभ राष्ट्रीय गीत वन्देमातरम के साथ हुआ। इस दौरान रमेश राजोरिया ने अपने उद्बोधन में कहा कि सभी व्यक्तियों को विशेषकर युवाओं को स्वामी से प्रेरणा लेकर अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए संकल्प लेकर अथक प्रयास करना चाहिए। कभी हार नही माननी चाहिए। अध्यक्ष नगेन्द्र शर्मा ने कहा कि स्वामी का जन्म 12 जनवरी 1863 को हुआ। हम आज उनकी 160वीं जयन्ती मना रहे है। सरकार ने इस दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में 1984 को घोषित किया था। तब से हम इसे युवा दिवस के रूप में सभी शैक्षणिक संस्थाओं में मनाते हैं। प्रांतीय प्रकल्प प्रभारी सीताराम शर्मा व  महिला प्रमुख मंजुलता गोयल ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रीय युवा महोत्सव 2023 की थीम "विकसित युवा, विकसित भारत हैं। केंद्रीय युवा कार्यक्रम व खेल मंत्रालय द्वारा कर्नाटक सरकार के सहयोग से 12 से 16 जनवरी तक कर्नाटक में 26 वे राष्ट्रीय युवा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। महापुरुष जयंती प्रभारी अभय कुमार शास्त्री व राजेन्द्र गुप्ता ने बताया कि इस दिन का उद्देश्य भारत के युवा मन को दिशा देना और उन्हें राष्ट निर्माण के लिए शक्ति के रूप में एक जुट करना हैं। इस अवसर पर मोतीलाल शाक्यवार, रिधीचन्द बंसल, स्वच्छता समिति प्रेरक राजेंद्र सिंह, आकाश पुरोहित ने भी संबोधित किया। सचिव धर्मेन्द्र सिंह ने कहा कि स्वामी का प्रेरक वाक्य है उठो, जागो, तब तक रुको मत, जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाए और सभी का पधारने पर आभार व धन्यवाद प्रकट किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack