पीड़ित पत्रकार सीएमआर में जमा करा रहे आवंटन के कागज,खबरों में उठाएंगे 571 आवंटियों की पीड़ा।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
पिंकसिटी प्रेस एनक्लेव, नायला पत्रकार नगर के 571 आवंटी पत्रकारों में से 25 पत्रकारों ने पिछले 5 दिन में अपने आवंटन दस्तावेज मुख्यमंत्री निवास पर जमा करा दिए हैं। शेष आवंटियों ने भी 5 सदस्यीय जत्थे की शक्ल में अपने आवंटन दस्तावेज के साथ सीएमआर जाने की तैयारी कर ली है। 9 साल पहले विधिवत आवंटित प्लॉट के पट्टे नहीं देने से खफा आवंटी पत्रकारों ने समाचार माध्यमों के जरिए भी अपनी आवाज बुलंद करने का निर्णय किया है। चलो नायला संगठन के तत्वावधान में आवंटी पत्रकारों का पांचवा जत्था शुक्रवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने उनके निवास पर पहुंचा। मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में सीएमआर के अधिकारियों ने पत्रकारों से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि पत्रकारों के रोज सीएमआर आ रहे जत्थों के बारे में मुख्यमंत्री को अवगत करा दिया है। जल्दी ही पत्रकारों से उनकी मुलाकात का समय भी दे दिया जाएगा।अधिकारियों का यह भी कहना रहा कि पत्रकारों की बात सीएम तक पहुंच चुकी है तो रोज आकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। इस पर जत्थे के सदस्यों ने प्लॉट आवंटन के दस्तावेज देकर कहा कि सभी को अपने प्लॉट आवंटन के दस्तावेज दिखाने हैं। जब ये दस्तावेज सही है तो उन्हें पट्टे क्यों नहीं दिए जा रहे हैं। सभी आवंटी पत्रकार हैं और मुख्यमंत्री से मिलकर व्यवस्थाओं को लेकर बहुत सी बातें बताना चाहते हैं। चलो नायला संगठन के प्रतिनिधियों ने बताया कि 571 आवंटियों के साथ न्याय होने तक उनका आग्रह आंदोलन जारी रहेगा। शीघ्र ही सभी पत्रकार खबरों का मोर्चा भी खोलेंगे, जिसमें नायला पत्रकार नगर के आवंटियों के साथ 9 साल से हो रहे अन्याय को उजागर किया जाएगा। अशोक गहलोत न्यायप्रिय मुख्यमंत्री हैं और अब उनसे ही न्याय की उम्मीद है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack