सीएम गहलोत 8 फरवरी को करेंगे बजट पेश, युवाओं व महिलाओं को मिलेगी तरजीह।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पांचवां और अंतिम बजट आठ फरवरी को विधानसभा में पेश करेंगे। सीएम गहलोत ने मंत्रियों के चिंतन शिविर के दूसरे दिन पत्रकारों से बातचीत करते हुए यह एलान किया। उन्होंने कहा कि इस बार के बजट में यूथ और महिलाओं पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। पिछली बार किसानों के लिए अलग से बजट पेश किया था। सीएम गहलोत ने एक बड़ा फैसला राज्य में चल रही बीयर बार को लेकर लिया है। सीएम गहलोत ने आज ये घोषणा कर दी कि गली गली में बार खुल रहे है। रात को तीन चार बजे तक ये खुले रहते हैं, इसे रेगुलेट करने का तो बाद में देखेंगे, लेकिन अभी ये तय किया गया है कि बार चलाने वाले साढ़े 11 बजे से रात 12 बजे पहले तक इसे बंद कर दें। शराब की दुकान तो हम पहले ही आठ बजे का फैसला कर चुके है।यदि कोई दुकान आठ बजे बाद खुली पाई तो थानेदार जिम्मेदार होगा और उस पर सख्त कार्यवाही होगी। 
केन्द्र को भेजेंगे सोशल सिक्योरिटी एक्ट का प्रस्ताव।
गहलोत ने कहा कि कैबिनेट में एक प्रस्ताव पास हुआ है। इसमें केन्द्र सरकार से मांग की गई हैं कि पूरे देश में सोशल सिक्योरिटी एक्ट लागू किया जाए। संसद में इसका बिल लाया जाए। गहलोत ने कहा कि यूपीए राज में नरेगा, सूचना का अधिकार जैसे कानून बनाए गए। आज देश को जरूरत हैं कि सभी को ये सुरक्षा मिले। गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार एक करोड़ लोगों को पेंशन दे रही है।सीएम गहलोत ने कहा कि राजस्थान के अलावा पेपर लीक तो और भी राज्यों में हुए हैं, लेकिन हमारा जैसी सख्त कार्रवाई नहीं की गई है। हमने तुरंत कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया। मकान तोड़ दिया। हम तो ऐसे लोगों को जेल भेज रहे है। जो बच्चे पकड़े जाएंगे उनको हमेशा के लिए परीक्षा में बैठने के लिए अयोग्य कर दिया।  भाजपा तो बेवजह हल्ला कर रही है। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए सरकारी नौकरियां दे रहे है। पेपर लीक करने वालों को नहीं बख्शेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack