सीएम गहलोत की ओर से ख्वाजा गरीब नवाज के आस्ताने पर चादर पेश।

अजमेर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के 811वें उर्स पर अजमेर स्थित ख्वाजा साहब के आस्ताने पर चादर पेश की गई। राजस्थान वक्फ बोर्ड अध्यक्ष डॉ. खानू खान बुधवाली ने दरगाह में जियारत कर मुख्यमंत्री की ओर से चादर पेश की। इस अवसर पर पूर्व मंत्री नसीम अख्तर इन्साफ एवं हाजी कय्यूम खान भी उपस्थित रहे। सैय्यद वाहिद अंगारा चिश्ती ने चादर पेश करवाई। बुधवाली ने दरगाह में मुख्यमंत्री गहलोत का पैगाम पढ़ा। मुख्यमंत्री ने अपने पैगाम में कहा कि हिन्दुस्तान की सरजमीं को हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती गरीब नवाज जैसे ओलियाओं ने हमेशा खुदा खिदमत और रुहानी तालीमात से दुनिया को फैजयाब किया है। गरीब नवाज ने समाज के कमजोर, गरीब और बेसहारा लोगों की खिदमत करने, एक-दूसरे के साथ आपसी भाईचारा कायम रखने, मुल्क की बेहबूदी और परवरदिगार की इबादत करने पर जोर दिया। गहलोत ने कहा कि ख्वाजा गरीब नवाज जैसी अजीमुश्शान हस्ती के आस्ताने पर न सिर्फ हिन्दुस्तान बल्कि दुनिया के दीगर मुल्कों से जायरीन उर्स के मौके पर अकीदत के साथ अपनी मन्नत लेकर तशरीफ लाते हैं। मुझे उम्मीद है उर्स मुबारक के मौके पर आने वाले तमाम जायरीन गरीब नवाज की रूहानी तालीमात हासिल कर अमन, चैन, खुशहाली और भाईचारे का पैग़ाम दूर-दूर तक फैलाएंगे। मुख्यमंत्री ने उर्स मुबारक के मौके पर यहां तशरीफ लाने वाले तमाम जायरीन का इस्तकबाल करते हुए उर्स की कामयाबी के लिए दुआ की।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack