नशा मुक्त अभियान की पदयात्रा हनुमानगढ़ के गांव धोलीपाल पहुंची।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
नागरिक सुरक्षा मंच के सचिव आशीष गौतम की पदयात्रा तेहरवें दिन भी जारी रही। इस दौरान गांव के युवाओं में नशे के खिलाफ आक्रोश नजर आया। नागरिक सुरक्षा मंच द्वारा निकाली जा रही नशा मुक्त हनुमानगढ़ पदयात्रा मंगलवार को धोलीपाल गांव पहुंची। गांव के बाहर युवाओं द्वारा नागरिक सुरक्षा मंच के सचिव आशीष गौतम की फूल वर्षा कर स्वागत किया गाय ।यात्रा शुरू करने से पहले आशीष गौतम ने बताया कि आज यह यात्रा अपने 13 वे दिन मे प्रवेश कर गई है, हर दिन हमारा कारवां बढ़ता ही जा रहा है। यह मुद्दा किसी एक परिवार ,एक व्यक्ति या संस्था का नहीं है,यह मुद्दा पूरे हनुमानगढ़ जिले का है देश का है। नशा और अपराध एक दूसरे के समानुपात में बढ़ते हैं अगर हम नशे पर काबू पा लें तो अपराध के आंकड़ों में भी भारी गिरावट देखने को मिलेगी और साथ ही प्रशासन द्वारा जारी मंशा स्कीम के शिकायत नंबर को पंपलेट के माध्यम से घर-घर में बांटा गया। गांव के कुलविंद्र ढिल्लो ने बताया कि इस तरह का प्रयास नशे के खिलाफ ऐतिहासिक कहा जा सकता है क्योंकि कोई खुद को कष्ट देकर पूरे समाज को संगठित करना चाह रहा है यह बात अपने आप में किसी को भी ऊर्जा से भर देगी। गांव में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के अंदर नशा मुक्त हनुमानगढ़ विषय पर एक जागरूकता सेमिनार भी रखा गया जिसमें गांव के गणमान्य लोगों, अध्यापकों और विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। स्कूल के व्याख्याता विजय सिंह गोदारा ने बताया कि बच्चों को अगर नशे के दुष्परिणामों से अवगत करवा दिया जाए और उनका विशेष ध्यान रखा जाए तो इस समस्या से राहत पाने में काफी आसानी हो जाएगी और सघन जागरूकता ही इस मुद्दे का अंतिम हल हो सकती है।समाज सेवी बृजलाल भांभू ने बताया कि एक युवा इस मुद्दे को लेकर पदयात्रा कर इस मुद्दे को चर्चा का विषय बना चुका है तो सोचिए अगर सभी युवा जागरूक हो जाएं तो समाज व देश को इस नशे से मुक्ति दिलाई जा सकती है। इस मौके पर सचिन कौशिक, डायरेक्टर तरसेम सिंह,मेनपाल, प्रगट सिंह,कुलदीप सिंह ढिल्लों और स्कूल के व्याख्याता कृष्ण भाटिया, छात्र करण, प्रदीप, सुनील, नवदीप,निर्मल,नरेंद्र,हरप्रीत इत्यादि मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack