कृषक उत्पादक संगठन की बैठक में दिये आवश्यक दिशा निर्देश।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
कृषक उत्पादक संगठन की जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक मे अधिकारीयों ने एफ़पीओ में अधिक से अधिक सदस्यता बढ़ाकर व्यवसाय शुरू किया जाए ताकि किसानों को लाभान्वित किया जा सके। नाबार्ड के तत्वाधान में केंद्र सरकार के 10,000 कृषक उत्पादक संगठन(एफ़पीओ) के निर्माण एवं संवर्द्धन योजना की जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक का आयोजन मंगलवार को मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जिला परिषद अशोक असीजा की अध्यक्षता में जिला परिषद में किया गया। असीजा ने सभी कृषक उत्पादक संगठन(एफ़पीओ) में अधिक से अधिक सदस्यता बढ़ाकर व्यवसाय शुरू के निर्देश दिए ताकि किसानों को लाभान्वित किया जा सके। असीजा ने बताया कि बैठक में नाबार्ड,नफेड द्वारा सभी कृषक उत्पादक संगठन(एफ़पीओ) का प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया तथा सदस्यता, अंश पूंजी, अंश प्रमाणपत्र, व्यवसाय लाइसेन्स, बैंक क्रेडिट, इक्विटि अनुदान, व्यवसाय कार्ययोजना, वित्त वर्ष के लक्ष्य आदि पर विस्तार से चर्चा की गई । योजना के क्रियान्वयन में आ रही वित्तीय,तकनीकी एवं अन्य समस्याओं के निदान हेतु संबंधित हितधारक को अपेक्षित सहयोग का आश्वासन दिया। एसएफ़एसी द्वारा जिले में 03 ब्लॉक नोहर, पीलीबंगा और रावतसर में कृषक उत्पादक संगठन(एफ़पीओ) के निर्माण एवं संवर्द्धन का आवंटन सीबीबीओ शक्तिवर्धक मिल्क प्रोडूसर्स कंपनी द्वारा किया गया है जिनको अपने कार्यक्षेत्र में शीघ्र कार्य शुरू करने हेतु निर्देशित किया गया।बैठक में नाबार्ड डीडीएम दयानन्द काकोडिया, एसबीआई एलडीएम राजकुमार, कृषि विपणन उपनिदेशक सुभाष सहारण,कृषि उपज मंडी सचिव  सीएल वर्मा,केवीके नोहर अशोक चौधरी,कृषि विभाग से करणजीत एवं समस्त सीबीबीओ,एफ़पीओ प्रतिनिधि उपस्थित रहें ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack