राजस्थान आवासन मंडल बना मैनेजमेंट गुरूओं के लिए केस स्टडी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान आवासन मंडल के लिए दस जनवरी का दिन मण्डल के ताज में एक और हीरा जड़ने का दिन रहा। लंदन की प्रतिष्ठित वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स संस्था ने मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा की ओर से मंडल की वित्तीय सलाहकार संजय शर्मा को विगत 3 वर्षों में ई-बिड सबमिशन और ई-ऑक्शन के जरिए रिकॉर्ड 13 हजार 583 व्यावसायिक और आवासीय भवन बेचने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने इस सम्मान का असली हकदार आवासन मंडल की टीम को माना। उन्होंने कहा कि विगत 4 वर्ष पूर्व आमजन का विश्वास आवासन मंडल से पूरी तरह उठ गया था, मंडल लगातार घाटे में जा रहा था लेकिन मंडल के अधिकारियों और कार्मिकों की ऊर्जा और उत्साह ने वह कर दिखाया जो लोगों के लिए मिसाल बन गया है। अरोड़ा ने इस सम्मान के लिए मंडल की पूरी टीम को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इसी जुनून और जोश के साथ काम करते हुए हमें आने वाले वर्षों में कई और नए कीर्तिमान स्थापित करने हैं। आवासन मंडल के लिए यह कोई पहला मौका नहीं है जब मंडल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। पिछले चार वर्षों में मण्डल को कुल 11 अवार्ड मिल चुके हैं। इनमें मकान विक्रय में वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्डस, स्कॉच अवार्ड-2021, अवार्ड ऑफ एक्सीलेन्सी, नेशनल रियल एस्टेट डवलपमेंट काउंसिल द्वारा सम्मान, नेशनल हाउसिंग अवार्ड, आई.बी.सी और 'स्टार ऑफ गवर्नेस गोल्ड अवार्ड' जैसे अवार्ड शामिल हैं। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल भी मंडल की प्रभावी कार्यशैली की कई बार प्रशंसा कर चुके हैं। यही नहीं आवासन मंडल देशभर के मैनेजमेंट गुरूओं के लिए केस स्टडी बना हुआ है। देश के कई राज्य मंडल के मॉडल को अपनाने की तैयारी कर रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack