अधिकारियों की कार्यशैली से दुखी सरपंच ने स्तीफा देने की पेशकश।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
करौली जिले के टोडाभीम कस्बे के पंचायत समिति कार्यालय सभागार में प्रधान कल्पना मीना की अध्यक्षता में साधारण सभा की बैठक आयोजित की गई। साधारण सभा की बैठक में रानौली सरपंच मानसिंह मीना सहित कई सरपंचों के द्वारा एसडीएम की मौजूदगी में उपखंड़ स्तरीय अधिकारियों पर ग्राम पंचायतों के पिछड़ने के आरोप लगाए गए। साथ ही उन्होंने अधिकारियों की कार्यशैली से दुखी होकर सरपंच पद से अपना स्तीफा देने की पेशकश की गई।साधारण सभा की बैठक में 137 करोड़ के नरेगा के वार्षिक प्लान 2023-24 की कार्ययोजना तैयार की गई जिस पर सभी सदस्यों ने अपनी सहमति जताई गई। पंचायत समिति सभागार में आयोजित साधारण सभा की बैठक में ग्राम पंचायत सरपंच व सदस्यों के द्वारा जनहित के मुद्दे उठाए गए। ग्राम पंचायत धवान से मोहनपुरा से सड़क से सरपंच के द्वारा सड़क से अतिक्रमण हटवाने की मांग की गई। जिस पर सहायक अभियंता के द्वारा कहा कि यदि ग्राम पंचायत के द्वारा हमें संसाधन उपलब्ध करवाए तो अतिक्रमण को हटवाया जावेगा। मोहनपुरा सड़क जिसे एक वर्ष भी नही हुआ हैं और इस सड़क पर जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। अजीजपुर सरपंच के द्वारा बिशनपुरा से नांगल लाट को जाने वाले रास्ते व टोडाभीम से अजीजपुर जाने वाली डामरीकरण सड़क जर्जर होने का मामला उठाया गया। मोरडा सरपंच के द्वारा मोरडा से डूंगापुरा सड़क की समस्या से अवगत करवाया जिस पर सहायक अभियंता के द्वारा कहा कि उसके नवीनीकरण के प्रस्ताव भिजवाया गया हैं। बैठक में सरपंच संघ के अध्यक्ष राकेश मीना के द्वारा सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता व जलदाय विभाग के अधिशाषी अभियंता के अनुपस्थिति रहने पर सरपंचों के द्वारा गहरी नाराजगी जताई गई। क्षेत्र में संचालित आरओ प्लांट में से 15 आरओ प्लांटों का भौतिक सत्यापन कर लिया गया गया और आठ आरओ प्लांट बन्द हैं जिनका समय पूर्ण होने के कारण संचालित नही हो पा रहे हैं जिन्हें शीघ्र शुरू करवाने के लिए कार्यवाही शुरू कर दी गई हैं। जिस पर सरपंच संघ के अध्यक्ष राकेश मीना के द्वारा नाराजगी जताई गई। उप जिला प्रमुख प्रतिनिधि प्रेमराज महस्वा ने बताया कि पंचायत समिति क्षेत्र में जल जीवन मिशन के अंतर्गत किसी भी पंचायत क्षेत्र में पेयजलापूर्ति सुचारु रूप से शुरू नही हो पाई हैं। जिस पर सहायक अभियंता रतनसिंह ने बताया कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत सभी ग्राम पंचायतों के टेंडर हो चुके हैं और शेष रही स्कीमें शीघ्र स्वीकृत हो जाएंगी। बिशनपुरा में उच्च जलाशय की बने हुए एक वर्ष हो गया लेकिन आज तक पेयजल लाइन नही डाली गई हैं जिसके चलते ग्राम पंचायत सड़कें नही बना पा रही हैं। उन्होंने बताया कि जलदाय विभाग के द्वारा पेयजल लाईनें डालने के लिए ग्राम पंचायत की सड़कों को खुदवा दिया गया हैं। साथ ही विभाग के द्वारा खोदी गई सड़कों को रिपेयर नही करवाया गया हैं। सरपंच के अध्यक्ष राकेश मीना ने कहा कि मेरे द्वारा विद्युत निगम के सहायक अभियंता से बोरवैल के कनेक्शन  के लिए कहा गया तो उनके द्वारा निगम के पास विद्युत पोल नही होने की जानकारी दी गई जिस पर मेरे द्वारा निगम के नांगल शेरपुर कार्यालय में जाकर देखा तो वहां विद्युत पोल रखें हुए हैं। ग्राम पंचायत अजीजपुर में आईटी केंद्र के पास रास्ते मे रखें विद्युत ट्रांसफार्मर को हटवाने की मांग की गई। किरवाड़ा में 11 केवी विद्युत लाइन को ऊंचा करवाने की मांग की गई। साथ ही गांवों में विभाग के द्वारा की जा रही अघोषित विद्युत कटौती को बन्द करने की मांग की गई। बैठक में एसडीएम दुर्गाप्रसाद मीना के द्वारा खाद्य सुरक्षा, वृद्धावस्था पेंशन सहित चिरंजीवी बीमा योजना के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान की गई। बैठक में एसडीएम दुर्गाप्रसाद मीना, तहसीलदार पृथ्वीराज मीना, विकास अधिकारी रश्मि मीना, मुख्य ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ देवीसहाय मीना, सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता नरेश कुमार मीना, विद्युत निगम के सहायक अभियंता रामकेश मीना, मोरड़ा सरपंच विजेंद्र सिंह गुर्जर, जौल सरपंच भरतलाल मीना, रानौली सरपंच मानसिंह मीना, गोरड़ा सरपंच पपीता मीना, पंचायत समिति सदस्य गोपाल मातासूला, पांचायत समिति सदस्य जितेंद्र किरवाड़ा, खेड़ी सरपंच लखन लाल मीना, किरवाड़ा सरपंच महेश मीना, पाड़ला सरपंच प्रतिनिधि राजेन्द्र सिंह सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack