सो रहे परिवार पर पेट्रोल छिड़ककर लगाई आग, चिट्टे का नशा बना मासूम की मौत का कारण।

हनुमानगढ़-विश्वास कुमार।
दिल दहला देने वाली घटना हनुमानगढ़ जिले पीलीबंगा कस्बे के वार्ड नंबर 9 की है। जहाँ आज सुबह करणी माता मंदिर वाली गली में स्थित एक घर सोए हुए परिवार के कमरे में पेट्रोल डालकर आग लगाने का मामला सामने आया है।घटना गुरुवार सुबह लगभग 5:00 से 6:00 के बीच की है।इस आग में पिता पुत्र व माँ बुरी तरह झुलस गये और कमरे मे पड़ा सारा समान भी जलकर खाक हो गया और आग की चपेट में आए मां और बेटे को बीकानेर रेफर कर दिया गया था और इलाज के दौरान मासूम बेटे की मृत्यु हो गई जिसकी उम्र करीब 6 वर्ष है।जबकि बच्चे की मां की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। परिवार के जगसीर सिंह ने मीडिया के सामने आरोप लगाए है की उसके भाई,भाभी और भतीजे को किसी ने रंजिशवश जलाकर मारने के प्रयास किया है। इस घटना का कारण समाज के लिए जहर बन रहा चिट्टा बताया जा रहा है।हादसे मे झुलसे जसवीर दास उर्फ़ मदी का कहना है की मे डेढ़ वर्ष पूर्व चिटा पीता था लेकिन अब छोड़ दिया था और बीते कल दोपहर में 1:00 से 2:00 के बीच दो व्यक्ति जोकि बाप और बेटा हैं वे मेरी गली मे चिट्टा बेचने की कोशिश कर रहे थे तो मैंने उनको बोला कि मेरी गली में चिट्टा मत बेचो और मैंने उनसे चिट्टा छीनकर नाली में फेंक दिया। जिसकी वजह से दोनों ने मेरे से हाथापाई की और मुझे देख लेने की धमकी भी दी थी। जिसके बाद ये घटना घट गईं है। घटना की खबर लगते ही हनुमानगढ़ एसपी अजय सिंह राठौड़ और डीएसपी पूनम चौहान ने घटनास्थल का जायजा लिया और मामले की गंभीरता से जाँच शुरु कर दी है। एसपी अजय सिंह राठौड़ ने बताया कि चिट्टे (हेरोइन) की खरीद,बेचान के पैसे को लेकर आपसी झगड़ा हुआ था जिसकी बाकि मामले की जाँच की जा रही है और कुछ लोगों को दास्तायाब किया गया है।
पुलिस पर उठे सवाल।
जिस तरह से यूँ खुलेआम क्षेत्र मे चिटा बिक रहा है और उसकी वजह से ऐसे हादसे हो रहे है उससे कही ना कही पुलिस कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack