पुलिस ने जहरीली शराब का पकड़ा अवैध जखीरा,चार लापरवाह कांस्टेबल निलंबित।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजधानी जयपुर के शिवदासपुरा और सांगानेर सदर थाना क्षेत्र में अवैध शराब की चार फैक्ट्रियों पर 21 और 22 जनवरी को छापेमारी कर भारी तादाद में शराब और 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। यह लोग केमिकल और मिथाइल एल्कोहल स्पिरिट से जहरीली शराब बना रहे थे। ब्रांडेड शराब के नाम पर सरकारी ठेको पर बेची जा रही थी। छापेमारी के दौरान फैक्ट्री के मालिक मौके से फरार हो गए। इस कार्रवाई के बाद चार बीट कॉन्स्टेबल को  निलंबित कर दिया है। अब शिवदासपुरा और सांगानेर सदर थानाधिकारियों पर कार्रवाई की जा रही है। एडिशनल कमिश्नर अजय पाल लांबा ने बताया कि ऑपरेशन सीएसटी इंचार्ज खलील अहमद के नेतृत्व में किया गया।
सीएसटी के कॉन्स्टेबल अजय कुमार को यह जानकारी मिली थी कि शिवदासपुरा और सांगानेर सदर थाना इलाके में अ‌वैध रूप से शराब की फैक्ट्री चल रही है। 10 दिन तक सीएसटी की टीम ने फैक्ट्री पर निगरानी रखी। फैक्ट्री में आने जाने वाले वाहनों की रैकी की। फैक्ट्री में स्पिरिट में कमिकल और पानी मिलाकर शराब बनाई जा रही थी। इस दौरान पुलिस ने शराब के दर्जनों कार्टन को भी जब्त किया हैं। अवैध रूप से शराब बनाने की यह चारों फैक्ट्री अशोक चौधरी और रवि बालोत मीणा चला रहे थे। इन दोनों ने ये जमीन किराए पर लेकर अ‌वैध फैक्ट्री डाली हुई थी। मिलावट खोर एथाईल एल्कोहोल की जगह मिलावटी शराब में मिथाइल एल्कोहोल का इस्तेमाल कर लेते हैं। इसके कारण शराब जहरीली हो जाती हैं। जयपुर कमिश्नरेट की पुलिस ने चारों फैक्ट्रियों पर छापेमारी की तो वहां बड़ी मात्रा में अलग-अलग ब्रांड की देशी और अंग्रेजी शराब की बोतलें मिली। इन बोतलों में फर्जी सीएसडी (आर्मी कैंटीन) की सील भी मिली। ये लोग इन शराब की बोलतों को आर्मी कैंटीन का बताकर बेच रहे थे। जयपुर पुलिस कमिश्नर की टीम ने पहली कार्यवाही सांगानेर सदर में ग्वार ब्रहामण रोड सरहद ग्राम शिकारपुरा में रंगाई छपाई की फैक्ट्री में छापेमारी की। पुलिस की छापेमारी में दौरान पुलिस ने देशी घूमर शराब के 55 कार्टून, देशी मदिरा जीएस के 12 कार्टून,अंग्रेजी शराब ओल्ड मॉन्क के 70 कार्टून, व्हाईट लेक वोदका के 5 कार्टून, सीलिंग मशीन, फिल्टर मशीन, बोतल पर तारीख लगाने की मशीन,दो लोडिंग टेम्पो जिस में 250 घूमर देशी शराब के कार्टून और एक पिकअप जिस में 100 कार्टून ओल्ड मॉक जब्त की गई।जयपुर पुलिस कमिश्नर की टीम ने सांगानेर सदर थाना इलाके में दूसरी फैक्ट्री ग्राम कोकाबास में रंगाई छपाई इलाके में चल रही थी जिस पर भी छापेमारी की गई।पुलिस की टीम ने तीसरी छापेमारी शिवदासपुरा इलाके के वसुंधरा विस्तार कॉलोनी वाटिका रोड पर की जहां पर पुलिस को छापेमारी में 85 स्पिरिट से भरे जरिकेन, वोदका के रेपर, ऑफिसर्स चॉईस के रेपर, स्पिरिट के 120 खाली जरिकेन बरामद हुए। पुलिस ने यह कार्रवाई शिवदासपुरा थाना इलाके के त्रिवेणी नगर में ग्यारसी लाल रेगर की जमीन पर चल रही फैक्ट्री पर की।  जहां पर पुलिस को एक ट्रक में 11 ड्रम में 200 लीटर स्पिरिट भरा मिला। काउंटी कल्ब, रॉयल, ट्रिपल एक्स रम बरामद हुई। एडिशनल कमिश्नर अजयपाल लांभा ने बताया कि चार फैक्ट्री पर रेड के दौरान दोनों थानों के चारों बीट कॉन्स्टेबल ने फैक्ट्री की जानकारी नहीं होना बताया। यह ड्यूटी के प्रति चारों कॉन्स्टेबल की लापरवाही है। इसे देखते हुए चारों को निलंबित कर दिया गया है। सदर और शिवदासपुरा सीआई के खिला‌फ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।एडिशनल डीसीपी क्राइम सुलेश चौधरी ने बताया कि आरोपी अवैध शराब को सरकार की ओर से अधिकृत शराब की दुकानों पर भी बेचा करते थे। बड़ी आसानी से ये आम लोगों तक पहुंच जाती थी। सीएसटी की एक टीम इसी काम में लगी हुई है। अब उन दुकानों पर कार्रवाई की जाएगी। जहां ये अवैध शराब बेचा करते थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack