जिला स्तरीय गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न।

सवाई माधोपुर-हेमेंद्र शर्मा।
सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय के दशहरा मैदान में चल रहे दो दिवसीय जिला स्तरीय गांधी दर्शन प्रशिक्षण शिविर का समापन हो गया । दो दिवसीय कार्यक्रम के दूसरे दिन प्रार्थना सभा का आयोजन हुआ।जिसके बाद राष्ट्रीय पिता महात्मा गाँधी के जीवन एंव उनके सिद्धांतों उपदेशों एंव उनके द्वारा देश हित मे किये गए कार्यो को लेकर एक संगोष्ठी का आयोजन हुआ जिसमे विभिन्न वक्ताओं ने गाँधी से जुड़ी विभिन्न जानकारियो से प्रशिक्षणार्थियों को अवगत करवाया । एडीएम डॉक्टर सूरज सिंह नेगी ने बताया कि दो दिवसीय कार्यक्रम में जिले के सभी आठ ब्लॉकों की पंचायतों एवं नगरीय निकाय के वार्डो के चयनित सदस्यों ने शिविर में भाग लेकर गांधी के विचारों को ग्रहण किया है। कार्यकम में मुख्य वक्ता ने कहा कि महात्मा गांधी एक ऐसा राष्ट्रवाद चाहते थे जिसकी बुनियाद सद्भावना, समन्वय, सर्वधर्म, समभाव की अवधारणा वाली हो, गांधी की सर्वधर्म प्रार्थना इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है, वे एक ऐसे समाज व राष्ट्र की रचना करना चाहते थे जहां संस्कृतियों और समुदायों में आपसी मेलजोल हो, गांधी का राष्ट्रवाद मानवता पर आधारित था। गांधी समुदाय को व्यक्तियों का समूह मानते थे उनकी दृष्टि में आपसी झगड़ों का निपटारा उसी तरह होना चाहिए जैसे परिवार के सदस्यों के बीच में होता है। उन्होंने सभी शैक्षणिक संस्थानों में गांधी दर्शन पर आधारित पाठ्यक्रम एवं सर्वधर्म प्रार्थना प्रारम्भ करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि गांधीवाद एक संकल्पना है जो कल भी प्रासंगिक थी आज भी है और भविष्य में भी रहेगी। प्रशिक्षण शिविर में वक्ताओं, प्रशिक्षार्थियों एवं प्रशिक्षण शिविर को सफलतापूर्वक आयोजित करने में सहयोग प्रदान करने वाले सभी अधिकारियों, संस्थानों के प्रतिनिधियों को गांधी जी की तस्वीर, गांधी टोपी तथा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।इस दौरान जिला कलक्टर सुरेश कुमार ओला, अतिरिक्त जिला कलक्टर डॉ. सूरज सिंह नेगी, जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अभिषेक खन्ना, एसडीएम कपिल शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं प्रशिक्षार्थी मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack