सरकार की उपलब्धियों को छुपाने के लिए विपक्ष ने किया हंगामा - सीएम गहलोत

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट। 

आज विधानसभा में विपक्ष ने इतना हो हल्ला मचाया कि स्पीकर ने राजयपाल के अभिभाषण का अंतिन पेज पढ़कर बाकी पढ़ा हुआ मान लिया।  स्पीकर सीपी जोशी ने सख्ती दिखते हुए आरएलपी के तीन विधायकों को सदन से निष्काषित भी कर दिया। विधानसभा में हुए हंगामें पर प्रतिक्रिया देते हुए सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि विपक्ष में हिम्मत ही नहीं थी कि वो राज्यपाल का अभिभाषण सुन पाता।  गहलोत ने कहा कि उनकी सरकार की शानदार उपलब्धियां हैं जो राज्यपाल अपने भाषण में बताते और इसी को रोकने के लिए विपक्ष ने हंगामा किया।  गहलोत ने बताया कि उनकी सरकार ने अब तक साढ़े तीन लाख सरकारी नौकरियां निकली हैं जो देश के किसी भी राज्य से अधिक है। गहलोत ने पेपर लीक प्रकरण पर बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार ने ना केवल दोषियों को जेल भेजा बल्कि दोषी छात्रों को आगामी परोक्षाओं से डिबार करने जैसे सख्त कदम भी उठाए हैं। गहलोत ने कहा कि ज्यादातर राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं और पेपर वहां भी लीक हो रहे हैं।  यहाँ तक कि डीआरडीओ और सेना की परीक्षाओं के भी पपपर लीक हुए हैं।  कहीं कोई कार्यवाही नहीं हुई लेकिन राजस्थान में हुई है।   

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack