आवंटन दस्तावेज लेकर सीएमआर पहुंचा चौथा जत्था, सीएम से प्लॉटों के पट्टे की गुहार।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
पिंकसिटी प्रेस एनक्लेव, नायला के आवंटी पत्रकारों के जत्थों का रोज सुबह सीएमआर पहुंचने का सिलसिला गुरुवार को चौथे दिन भी जारी रहा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करने पहुंचे चलो नायला संगठन के चौथे जत्थे ने सीएमआर के अधिकारियों को प्लॉट आवंटन के दस्तावेज दिखाए तो उन्होंने भी माना कि पत्रकार आवंटियों को उनका जायज हक मिलना चाहिए। मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में उनके निजी सचिव सोभागमल वर्मा ने जल्दी ही अपॉइंटमेंट फिक्स करने का वादा किया। गुरुवार को चौथे जत्थे में शामिल वरिष्ठ पत्रकार संजय पाटनी, अरविंद भूटानी, चंद्रमोहन मारोठिया, वीरेंद्र शर्मा और नरेश कुमार ने सीएमआर में दस्तक दी और जेडीए से 9 साल पहले आवंटित भूखंड के दस्तावेज दिखाते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री के पीठासीन अधिकारी सम्मेलन में व्यस्त होने के चलते गुरुवार को भी पत्रकारों से मुलाकात नहीं हो सकी। लगातार पत्रकार जत्थों के आने की सीएमआर के सुरक्षा अधिकारियों में भी चर्चा रही। गुरुवार को तो जत्थे के पहुंचते ही सुरक्षा अधिकारियों ने पत्रकारों को सीएम के निजी सचिव वर्मा से मुलाकात करा दी और वर्मा ने भी पत्रकारों के बिना कुछ कहे ही कह दिया कि आपका ज्ञापन लाओ, अपॉइंटमेंट दर्ज कर लेते हैं। पत्रकारों ने एक बार फिर उन्हें प्लॉट के कागज दिखाते हुए अपनी पीड़ा जाहिर की, जिस पर वर्मा ने शीघ्र ही मुख्यमंत्री से मुलाकात कराने के लिए आश्वस्त किया। शुक्रवार को 5 अन्य आवंटित पत्रकारों का पांचवां जत्था सीएमआर पहुंचेगा और ज्ञापन सौंपकर सीएम से मिलने और पिंकसिटी प्रेस एनक्लेव के 571 आवंटियों के पट्टे शीघ्र दिलाने की मांग करेगा। चलो नायला संगठन के प्रतिनिधियों ने बताया कि जेडीए से भेजी योजना की रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय में रखी है, जिस पर मुख्यमंत्री को अंतिम स्वीकृति देकर प्लॉटों के पट्टे जारी कराने हैं। पट्टे मिलने तक मुहिम जारी रहेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack