PHQ में तैनात DSP के खिलाफ रेप का आरोप, महिला पर पहले से दर्ज है हनीट्रैप का मामला दर्ज।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुर में पुलिस मुख्यालय में कार्यरत पुलिस उपाधीक्षक पर महिला ने रेप का मामला दर्ज करवाया है।डीवाईएसपी की विवाहित से फेसबुक के जरिए दोस्ती हुई थी। महिला का आरोप है कि जॉब लगाने और शादी का झांसा देकर उसके साथ रेप किया।11 जनवरी को डीवाईएसपी ने महिला के खिलाफ सीकर में हनीट्रैप की एफआईआर दर्ज करवाई थी।डीवाईएसपी ने शिकायत में बताया है कि महिला की डिमांड के अनुसार उसे 44 लाख रुपए दिए, लेकिन वो फिर भी ब्लैकमेल कर रही थी। गुरुवार रात जयपुर के विद्याधर नगर थाने में पीड़िता ने आरोपी डीवाईएसपी  राजीव राहड के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। थानाधिकारी वीरेंद्र कुरील ने बताया कि विद्याधर नगर निवासी 26 वर्षीय विवाहिता का आरोप है कि जनवरी 2021 में फेसबुक पर भेजी फ्रेंड रिक्वेस्ट के जरिए उसकी दोस्ती डीवाईएसपी राजीव राहड से हुई थी। इसके बाद दोनों ने एक-दूसरे के मोबाइल नंबर एक्सचेंज कर लिया। मोबाइल पर लगातार दोनों की बात होने लगी। बातचीत के दौरान आरोपी डीवाईएसपी ने खुद का पत्नी से तलाक होना बताया था। उससे मिलने आने पर आरोपी डीवाईएसपी राजीव ने जबरन रेप किया। शादी करने का उसे झांसा भी दिया। शादी का झांसा देकर लगातार रेप करने लगा। इस दौरान अस्पताल में जॉब लगाने का भी झांसा दिया। जॉब दिलाने के एवज में उससे 40 तोला सोने के गहने भी हड़प लिया। आरोपी डीवाईएसपी वर्तमान में पुलिस मुख्यालय में तैनात है। सीकर का रहने वाला है। दिसम्बर 2022 में ही राजीव सीआई से डीवाईएसपी  पद पर पदोन्नत हुए है। आरोपी डीवाईएसपी राजीव ने भी विवाहिता सहित चार लोगों के खिलाफ सीकर कोतवाली थाने में 11 जनवरी हनीट्रैप का मामला दर्ज करवाया रखा है। रिपोर्ट में बताया कि फेसबुक मैसेंजर के जरिए कोविड के समय अक्टूबर-2020 में विवाहिता ने उससे कॉन्टैक्ट किया था। उसका मोबाइल नंबर लेकर वॉट्सऐप कॉल करने लगी। हनीट्रैप में फंसाने की पूर्व प्लानिंग के तहत पति के प्रताड़ित करने और दुखी होने की भावनात्मक बातें की। मिलने नहीं आने पर खुद के आत्महत्या करने, छत से कूद जाने, हाथ में कांच का गिलास फोड़कर उसे डराकर घर पर मिलने को मजबूर किया।डीवाईएसपी ने आरोप लगाया कि दिसंबर 2021 के दूसरे सप्ताह में विवाहिता ने राजीव को प्रेग्नेंट होने की कहकर ब्लैकमेल किया। घरवालों को बताने की भी धमकी थी। डीवाईएसपी  ने दी शिकायत में बताया कि मई 2022 में बीमारी का नाटक कर उसे विवाहिता ने बुलाया। चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर दिया। ब्लैकमेल कर 4 लाख रुपए भी ऐंठ लिए। राजीव का कहना है कि बार-बार ब्लैकमेल कर रुपए ऐंठने से परेशान होकर उसने एक बार ही डिमांड करने की कही, 44 लाख रुपए में सौदा तय होने पर 19 सितम्बर 2022 को उसके घर दे आया।लेकिन अभी ब्लैकमेल कर पैसे  मांग कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack